Thursday, August 30, 2012

मैं अबला नहीं - डॉ नूतन गैरोला




      images (3)

मेरी हदों को पार कर
मत आना तुम यहाँ
मुझमे छिपे हैं शूल और
विषदंश भी जहाँ |
फूल है तो खुश्बू मिलेगी
तोड़ने के ख्वाब न रखना|
सीमा का गर उलंघन होगा
कांटो की चुभन मिलेगी …
सुनिश्चित है मेरी हद
मैं नहीं
मकरंद मीठा शहद ..
हलाहल हूँ मेरा पान न करना |
याद रखना
मर्यादाओं का उलंघन न करना ||


      *********
“शहद” शीर्षक के नीचे लिखी गयी मेरी कविताओं के संकलन से   एक कविता********** डॉ नूतन गैरोला

16 comments:

  1. सुन्दर अभिव्यक्ति.
    लगता है देवी दुर्गा अपना
    साक्षात काली रूप प्रकट कर
    असुरों को ललकार रही हो.

    ReplyDelete
  2. मन सशक्त हो, तन सह लेगा..

    ReplyDelete
  3. सुनिश्चित है मेरी हद ..bahut khoob..

    ReplyDelete
  4. बहुत बढ़िया....
    अनु

    ReplyDelete
  5. एक दम ऐसा हो होना चाहिये ...

    ReplyDelete
  6. बहुत अच्छी प्रस्तुति!
    इस प्रविष्टी की चर्चा कल शनिवार (01-09-2012) के चर्चा मंच पर भी होगी!
    सूचनार्थ!

    ReplyDelete
  7. बहुत सही! हर एक को अपने लिए एक दायरा बनाने की छूट है कि उसमें कोई बिना अनुमति प्रवेश न कर सके.

    ReplyDelete
  8. बहुत सुंदर अभिव्यक्ति ....

    ReplyDelete
  9. बहुत अच्छी उत्कृष्ट रचना

    ReplyDelete
  10. यह शक्ति अक्षय रहे ...
    शुभकामनायें आपको !

    ReplyDelete
  11. बहुत सुंदर। मेरे नए पोस्ट पर आप आमंत्रित हैं । धन्यवाद ।

    ReplyDelete
  12. प्रभावी .... हद को पार न करना ...
    नारी कभी भी अबला नहीं है ... भावमय प्रस्तुति ...

    ReplyDelete
  13. हिन्दीदिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ!
    आपका इस प्रविष्टी की चर्चा कल शनिवार (15-09-2012) के चर्चा मंच पर भी होगी!
    सूचनार्थ!

    ReplyDelete
  14. _____________@@__@_@@@_____
    _____________@__@@_____@_____
    ____________@@_@__@_____@_____
    ___________@@@_____@@___@@@@@_____
    __________@@@@______@@_@____@@_____
    _________@@@@_______@@______@_@_____
    _________@@@@_______@_______@_____
    _________@@@@@_____@_______@_____
    __________@@@@@____@______@_____
    ___________@@@@@@@______@_____
    __@@@_________@@@@@_@_____
    @@@@@@@________@@_____
    _@@@@@@@_______@_____
    __@@@@@@_______@@_____
    ___@@_____@_____@_____
    ____@______@____@_____@_@@_____
    _______@@@@_@__@@_@_@@@@@_____
    _____@@@@@@_@_@@__@@@@@@@_____
    ____@@@@@@@__@@______@@@@@_____
    ____@@@@@_____@_________@@@_____
    ____@@_________@__________@_____
    _____@_________@_____
    _______________@_____
    ____________@_@_____
    _____________@@_@_____

    From India

    ReplyDelete

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails